2 C
Innichen
Saturday, February 4, 2023
Homeताज़ा खबरपहलवानों का विरोध : में जांच पूरी होने तक पद से नहीं...

पहलवानों का विरोध : में जांच पूरी होने तक पद से नहीं हटेंगे बृजभूषण, पहलवानों व खेल मंत्री के बीच हुई बैठक के बाद फैसला

Date:

Related stories

Gorakhpur News : पुलिस चौकी की दीवार गिरने से आठ साल की बच्ची हुई मौत,

सार Gorakhpur News : एसएसपी डॉ. कार्रवाई की गौरव ग्रोवर...

Hamirpur News : मोबाइल पर गेम देखकर बच्चे ने दी अपनी जान

मौदहा (हमीरपुर)। में सात वर्षीय बच्चे ने मोबाइल पर...

the tallest we wrestler खास बातें यह हैकी पहलवानों का विरोध इन हिंदी : विवादों में घिरे कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह को आखिर कार झुकना ही पड़ा। जांच पूरी होने तक वह अपने पद से हट ही जाएंगे। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर और पहलवानों की बैठक के बाद ये फैसला लिया गया है । की पहलवानों की मांग है कि बृजभूषण सिंह को हटाया जाए और कुश्ती संघ को भी खत्म करके नए संघ का निर्माण किया जाए। जो अपने ऊपर लगे आरोपों पर सफाई देने के लिए बृजभूषण सिंह आज प्रेस से कॉन्फ्रेंस करने वाले थे, लेकिन उन्होंने इसे रद्द कर दिया है । वहीं, भारतीय ओलंपिक संघ ने यौन शोषण के आरोपों की जांच के लिए सात सदस्यीय समित गठित भी की है

बजरंग पुनिया बोले, जांच के आश्वासन पर विरोध ले रहे हैं वापस

पहलवानों का विरोधबैठक के बाद पहलवान बजरंग पुनिया ने कहा, केंद्रीय खेल मंत्री ने हमारी मांगों को सुना और उचित जांच का आश्वासन दिया है। मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं और हमें उम्मीद है कि निष्पक्ष जांच होगी, इसलिए हम विरोध वापस ले रहे हैं।

जांच किए जाने तक के पद से नहीं हटेंगे बृजभूषण

भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण ने सिंह निरीक्षण समिति द्वारा मामले की जांच भी किए जाने तक पद से हट जाएंगे। केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि बैठक के दौरान खिलाड़ियों ने अपनी मांगें भी रखीं और हमने इस पर चर्चा भी की। हमने रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया को नोटिस भी जारी किया था जब आरोप लगाए गए थे और उन्हें 72 घंटे के भीतर ही जवाब देने के लिए कहा गया था ।

पहलवानों का विरोध : तीरंदाज डोला बनर्जी बोलीं- सच्चाई सबके सामने आएगी

तीरंदाज डोला बनर्जी ने कहा, की”मुझे अभी मीडिया से पता चला है कि मैं इस समिति (आईओए की सात सदस्यीय समिति) का हिस्सा भी हूं। हम काम शुरू करेंगे और फिर बता पाएंगे कि सही तस्वीर क्या है। हम सुनिश्चित करते हैं कि सच्चाई सबके सामने ही आएगी।”

पहलवानों का विरोध : आईओए द्वारा गठित सात सदस्यीय समिति के सदस्य का बयान आया सामने

आईओए द्वारा गठित सात सदस्यीय समिति के सदस्य और भारतीय भारोत्तोलन से महासंघ के अध्यक्ष सहदेव यादव ने कहा, ”हम बैठेंगे और सबकी बात भी सुनेंगे और आरोपों को देखने के बाद निष्पक्ष जांच भी करेंगे। हम निष्पक्ष न्याय देने की कोशिश भी करेंगे।’

पहलवानों का विरोध : राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने अनुराग ठाकुर और स्मृति ईरानी को लेकर दिया बयान
भाजपा सांसद और डब्ल्यूएफआई के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों के बीच राष्ट्रवादी और कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने शुक्रवार को केंद्रीय मंत्रियों के अनुराग ठाकुर और स्मृति ईरानी से अपना कर्तव्य पूरा करने के और सिंह के इस्तीफे की मांग करने वाले पहलवानों के लिए न्याय में सुनिश्चित करने को कहा है ।

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को (राकांपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता क्लाइड क्रास्टो ने भी कहा, “यह स्पष्ट होता जा रहा है कि केंद्र सरकार और खेल मंत्रालय ने बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ कार्रवाई भी नहीं कर रहे हैं क्योंकि वह भाजपा के सांसद हैं। उनके पास डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष के रूप में अपने पद से हटने के लिए कहने की शक्ति है।”

Wrestlers Protest : भारतीय ओलंपिक संघ ने बनाई जांच समिति

जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे पहलवानों से मिली लिखित शिकायत के बाद भारतीय ओलंपिक संघ ने आपात बैठक बुलाई। भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) ने भारतीय कुश्ती संघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए सात सदस्यीय समिति का गठन किया है। इस समिति में मैरी कॉम, डोला बनर्जी, अलकनंदा अशोक, योगेश्वर दत्त, सहदेव यादव और दो अधिवक्ता हैं।

पहलवानों का विरोध : बृजभूषण शरण सिंह की प्रेस कॉन्फ्रेंस रद्द
भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह आज मीडिया से बात करने वाले थे। जैसे ही प्रदर्शनकारी पहलवान खेल मंत्री के आवास पर बैठक के लिए पहुंचे, उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस को रद्द करने का फैसला ले लिया। भारतीय कुश्ती संघ के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के बेटे प्रतीक भूषण सिंह ने कहा, “हम औपचारिक रूप से इस मुद्दे पर कुछ भी बोलने के लिए अधिकृत नहीं हैं। वह (बृज भूषण शरण सिंह) डब्ल्यूएफआई की वार्षिक आम बैठक में 22 जनवरी को मीडिया को संबोधित करेंगे। हमने खेल मंत्रालय को अपना आधिकारिक बयान दे दिया है।”

पहलवानों का विरोध : खेल मंत्री के आवास पर पहुंचे धरने पर बैठे पहलवान
भारतीय कुश्ती संघ के खिलाफ धरने पर बैठे पहलवान खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से मिलने उनके आवास पर पहुंच गए हैं। पहलवानों को उम्मीद है कि आज उनके मामलों का निपटारा हो जाएगा। सरकार भी जल्द से जल्द इस धरने को खत्म कराना चाह रही है। अनुराग ठाकुर के साथ प्रदर्शनकारी पहलवानों की बैठक शुरू हो गई है।

पहलवानों का विरोध : खेल मंत्री से मिलने निकले पहलवान
खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से मिलने के लिए पहलवान जंतर-मंतर से निकल चुके हैं। गुरुवार को भी उन्होंने खेल मंत्री से मुलाकात की थी, लेकिन कोई नतीजा सामने नहीं आया था। आज होने वाली बैठक में खेल सचिव भी हिस्सा लेंगे। वहीं, साई (भारतीय खेल प्राधिकरण) के डीजी संदीप प्रधान भी बैठक में मौजूद रहेंगे।

सबसे लंबे डब्ल्यूडब्ल्यूई पहलवान
पहलवान नरसिंह यादव ने कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह का पक्ष लिया है। उन्होंने कहा कि अध्यक्ष जी ने कुछ गलत नहीं किया है। नरसिंह का मानना है कि उनके खिलाफ साजिश हो रही है।

पहलवानों का विरोध : विनेश फोगाट ने की मीडिया से बात
विनेश फोगाट ने शुक्रवार शाम मीडिया से बात करते हुए कहा, “हम यहां इंसाफ के लिए बैठे हैं। सभी पहलवान हमारे साथ हैं। मौजूदा कुश्ती संघ को बर्खास्त करना चाहिए। अध्यक्ष ने मुझे खोटा सिक्का बोला था। अगर अध्यक्ष जी कुर्सी नहीं छोड़ते हैं तो हम उन्हें कुर्सी से हटवा देंगे। हम सम्मान की लड़ाई लड़ रहे हैं। अगर हमारी बात नहीं मानी गई तो हम फिर कल धरने पर बैठेंगे। हमने केंद्रीय खेल मंत्री के सामने अपनी समस्याएं रखीं। उन्होंने हमें शाम 6 बजे एक बार फिर मिलने का समय दिया है। कुछ मुद्दे ऐसे थे जिन पर हम असंतुष्ट थे।”

पहलवानों का विरोध : खेल मंत्री से फिर मिलेंगे पहलवान
धरने पर बैठे पहलवान आज खेल मंत्री अनुराग ठाकुर से फिर मिलेंगे। गुरुवार को भी देर रात खेल मंत्री और प्रदर्शनकारी पहलवानों के बीच बात हुई थी, लेकिन खिलाड़ी उससे खुश नहीं हुए थे। वह कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के इस्तीफे पर अड़े हैं।

पहलवानों का विरोध : ओलंपिक संघ ने बुलाई आपात बैठक
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारतीय ओलंपिक संघ ने पहलवानों के धरने को देखते हुए आपात बैठक बुलाई है। आज शाम 5:45 बजे से बैठक शुरू हो सकती है। वर्चुअल बैठक में इस मामले को लेकर चर्चा होने की संभावना है। भारत का सबसे बड़ा रेसलर

पहलवानों का विरोध : पहलवानों ने राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता का बहिष्कार किया
दिल्ली के जंतर-मंतर में प्रदर्शन कर रहे पहलवानों के समर्थन में हरियाणा और हिमाचल के पहलवानों ने राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता का बहिष्कार किया है। हरियाणा और हिमाचल के छह पहलवान खेले बिना इस प्रतियोगिता से बाहर लौट गए हैं। यह कुश्ती प्रतियोगिता कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह के गृहनगर गोंडा में हो रही है।

Resource ” https://bit.ly/3ZQyQ1G

Subscribe

- Never miss a story with notifications

- Gain full access to our premium content

- Browse free from up to 5 devices at once

Latest stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here